MACD – मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस डाइवर्जेंस इंडिकेटर क्या है?

कोई ट्रेडर जब भी शेयर बाज़ार में ट्रेडिंग के इरादे से आता है तब वो चार्ट के टेक्निकल एनालिसिस तथा कैंडलस्टिक पैटर्न का अध्ययन करता है | शेयर बाज़ार के इंडिकेटर भी टेक्निकल एनालिसिस का एक भाग है | इन्ही इंडिकेटर में एक प्रमुख इंडिकेटर है MACD (Moving Average Convergence Divergence) |

अतः आज के अपने इस लेख में हम सब मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस डाइवर्जेंस (Moving Average Convergence Divergence) इंडिकेटर को विस्तार से पढेंगे तथा जानेंगे कि मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस डाइवर्जेंस (MACD) इंडिकेटर क्या होता है तथा एक ट्रेडर इसका प्रयोग कर शेयर बाज़ार से ढेरों पैसे कैसे कमाता है |

Table of Contents

MACD – मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस डाइवर्जेंस इंडिकेटर क्या है?

मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस डाइवर्जेंस (MACD) इंडिकेटर एक मोमेंटम इंडिकेटर है जो शेयर बाज़ार के मोमेंटम को दर्शाता है | शेयर बाज़ार में ट्रेड करने वाले ट्रेडर के मध्य यह इंडिकेटर बड़ा ही लोकप्रिय है |

MACD - मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस डाइवर्जेंस इंडिकेटर क्या है?

इस इंडिकेटर की खोज 1970 के दशक में गेराल्ड एपल द्वारा किया गया था | MACD इंडिकेटर को समझने के लिए इसके प्रमुख घटक को समझना अत्यंत आवश्यक है, जो निम्न है |

  • MACD लाइन – Fast  Line
  • सिग्नल लाइन – Slow Line
  • जीरो लाइन – Base Line या Centre Line
  • MACD हिस्टोग्राम

MACD लाइन – Fast  Line

इंडिकेटर में इस लाइन को नीले रंग से दर्शाया जाता है | इसे 12 दिन के EMA (एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज) में से 26 दिन के EMA को घटाकर ज्ञात किया जाता है | यह लाइन, सिग्नल लाइन से तेज़ मूवमेंट करती है इस कारण से इसे फ़ास्ट लाइन (Fast  Line) भी कहा जाता है |

सिग्नल लाइन – Slow Line

MACD लाइन के 9 दिन के EMA (एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज) को सिंग्नल लाइन कहा जाता है | इंडिकेटर में इसे लाल रंग से दर्शाया जाता है | यह लाइन, एमएसीडी लाइन से धीरे मूवमेंट करती है इस कारण से इसे धीमी लाइन (Slow Line) भी कहा जाता है |

MACD हिस्टोग्राम

एमएसीडी लाइन तथा सिग्नल लाइन के अंतर से हिस्टोग्राम को निकाला जाता है | इसे बेस लाइन के ऊपर तथा निचे दर्शाया जाता है | यदि एमएसीडी लाइन तथा सिग्नल लाइन का अंतर पॉजिटिव आता है तब इसे जीरो लाइन से ऊपर दर्शाया जाता है लेकिन यदि अंतर नेगेटिव आता है तब हिस्टोग्राम को जीरो लाइन से निचे दर्शाया जाता है |

या यूँ कहे कि जब MACD लाइन, सिग्नल लाइन से ऊपर होती है तब हिस्टोग्राम जीरो लाइन से ऊपर तथा जब MACD लाइन, सिग्नल लाइन से निचे होती है तब हिस्टोग्राम जीरो लाइन से निचे बनता है | क्रिप्टो करेंसी क्या है?

जीरो लाइन – Base Line या Centre Line

हिस्टोग्राम के बिच वाली लाइन को जीरो लाइन या बेस लाइन (Base Line) या केन्द्रीय लाइन (Centre Line) कहा जाता है | जब MACD लाइन तथा सिग्नल लाइन इस जीरो लाइन के ऊपर होती है तब बाज़ार में तेज़ी तथा जब MACD लाइन तथा सिग्नल लाइन इस जीरो लाइन से निचे होता है तब बाज़ार के कमजोरी का संकेत मिलता है |

जब MACD लाइन, सिग्नल लाइन को निचे से काटकर ऊपर निकल जाती है तब ट्रेडर खरीदारी में तथा जब MACD लाइन, सिग्नल लाइन को ऊपर से काट कर निचे चली जाती है तब ट्रेडर बिकवाली में ट्रेड लेते है |

MACD क्रॉसओवर क्या है / What is MACD Crossover

ऊपर के लेख में हम सबने जाना कि एमएसीडी इंडिकेटर में दो लाइन होती है जिसमे एक लाल तथा दूसरी नीली होती है | ये दोनों लाइने जब एक दुसरे को काटती है तब उस स्थिति को एमएसीडी क्रॉसओवर (MACD Crossover) कहा जाता है | जब एमएसीडी लाइन, सिग्नल लाइन को ऊपर से क्रास कर निचे आती है तब बाज़ार में मंदी आने का संकेत माना जाता है | जब एमएसीडी लाइन, सिग्नल लाइन के निचे रहकर आगे बढ़ती जाती है तब बाज़ार को कमजोर माना जाता है ऐसे में ट्रेडर खरीदारी में ट्रेड लेने की गलती नहीं करता है | डिविडेंट क्या है ? what is dividend

एमएसीडी क्रॉसओवर क्या है / What Is MACD Crossover

लेकिन जब एमएसीडी लाइन, सिग्नल लाइन को निचे से ऊपर की ओर क्रास करती है तब बाज़ार के बुलिश होने का संकेत मिलता है | एक ट्रेडर इस स्थिति में खरीदारी में ट्रेड बनाते है तथा भरपूर मुनाफा कमाते है | जब तक एमएसीडी लाइन, सिग्नल लाइन के ऊपर रहकर आगे बढ़ती जाती है तब तक बाज़ार बुलिश रहता है | ऐसे स्थिति में ट्रेडर शॉर्ट सेलिंग करने की गलती बिलकुल नहीं करते है |

एमएसीडी कन्वर्जेन्स (MACD Convergence)

जब हिस्टोग्राम छोटा होने लगता है तब एमएसीडी लाइन और सिग्नल लाइन एक दुसरे के पास आने लगते है | इस स्थिति को एमएसीडी कन्वर्जेन्स (MACD Convergence) कहा जाता है | जब एमएसीडी इंडिकेटर में कन्वर्जेन्स की स्थिति उत्पन्न होती है तब क्रॉसओवर की स्थिति बनने वाली होती है | क्रॉसओवर होने के बाद बाज़ार अपना ट्रेंड बदल लेता है |

एमएसीडी डाइवर्जेन्स (MACD Divergence)

जब हिस्टोग्राम बड़ी होने लगती है तथा एमएसीडी लाइन और सिग्नल लाइन एक दुसरे से दूर जाने लगते है तब इस स्थिति को एमएसीडी डाइवर्जेन्स (MACD Divergence) कहा जाता है |

एमएसीडी इंडिकेटर से ट्रेड कब लें (MACD Indicator Se Kab Len )

शेयर बाज़ार में बहुत सारे ट्रेडर तथा एल्गो सॉफ्टवेयर इसी इंडिकेटर का सहारा लेकर ट्रेड लेते है | एमएसीडी इंडिकेटर में एमएसीडी क्रॉसओवर होने पर ट्रेड लिया जाता है |

एमएसीडी इंडिकेटर से ट्रेड कब लें (MACD Indicator Se trade Kab Len)

आईये अब हम समझते है कि कब खरीदारी में ट्रेड लिया जाता है तथा कब बाज़ार में शॉर्ट सेलिंग किया जाता है |

बुलिश क्रॉसओवर (bullish crossover)

 जब एमएसीडी इंडिकेटर में MACD लाइन, सिग्नल लाइन को निचे से काटकर ऊपर निकल जाती है तब बाज़ार के बुलिश होने का संकेत मिलाता है | यदि इस प्रकार का क्रासओवर जीरो लाइन के ऊपर होता है तब इसे अधिक प्रबल माना जाता है | ऐसे क्रॉसओवर के बाद ट्रेडर खरीदारी में ट्रेड बनाते है | नेशनल स्टॉक एक्सचेंज क्या है

बेयरिश क्रॉसओवर (bearish crossover)

जब एम.ए.सी.डी. इंडिकेटर में MACD लाइन, सिग्नल लाइन को ऊपर से काटती हुई निचे चली जाती है तब बाज़ार में मंदी का संकेत माना जाता है | यदि इस प्रकार का क्रासओवर जीरो लाइन के निचे बनता है तब मंदी की संभावना और प्रबल हो जाती है | ऐसे क्रॉसओवर के बाद ट्रेडर बाज़ार में शॉर्ट सेलिंग करते है तथा बाज़ार के गिरावट में पैसा कमाते है |

MACD लाइन तथा सिग्नल लाइन जब एक दुसरे के पास आते जाते है तब ट्रेंड के रिवर्स होने का संकेत मिलता है और जब इनमे क्रॉसओवर हो जाता है तब ट्रेंड रिवर्स हो जाता है | जब हिस्टोग्राम बड़े होते जाये या MACD लाइन तथा सिग्नल लाइन एक दुसरे से दूर होते जाये तब मौजूदा ट्रेंड को बल मिलता है |

इस लेख से सम्बंधित प्रश्नोत्तरी

MACD लाइन क्या है?

इंडिकेटर में इस लाइन को नील रंग से दर्शाया जाता है | इसे 12 दिन के EMA (एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज) में से 26 दिन के EMA को घटाकर ज्ञात किया जाता है |

सिग्नल लाइन किसे कहा जाता है?

MACD लाइन के 9 दिन के EMA (एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज) को सिंग्नल लाइन कहा जाता है | इंडिकेटर में इसे लाला रंग से दर्शाया जाता है |

MACD हिस्टोग्राम क्या है?

एमएसीडी लाइन तथा signal लाइन के अंतर से हिस्टोग्राम को निकाला जाता है | इसे बेस लाइन के ऊपर तथा निचे दर्शाया जाता है | यदि एमएसीडी लाइन तथा सिग्नल लाइन का अंतर पॉजिटिव आता है तब इसे जीरो लाइन से ऊपर दर्शाया जाता है लेकिन यदि यदि अंतर नेगेटिव आता है तब हिस्टोग्राम को जीरो लाइन से निचे दर्शाया जाता है |

जीरो लाइन किसे कहा जाता है?

हिस्टोग्राम के बिच वाली लाइन को जीरो लाइन या बेस लाइन (Base Line) या केन्द्रीय लाइन (Centre Line) कहा जाता है | जब MACD लाइन तथा सिग्नल लाइन इस जीरो लाइन के ऊपर होती है तब बाज़ार में तेज़ी तथा जब MACD लाइन तथा सिग्नल लाइन

MACD क्रॉसओवर क्या है?

ऊपर के लेख में हम सबने जाना कि एमएसीडी इंडिकेटर में दो लाइन होती है जिसमे एक लाल तथा दूसरी नीली होती है | ये दोनों लाइने जब एक दुसरे को कटती है तब उस स्थिति को एमएसीडी क्रॉसओवर (MACD Crossover) कहा जाता है |

एमएसीडी कन्वर्जेन्स किसे कहा जाता है?

जब हिस्टोग्राम छोटा होने लगता है तब एमएसीडी लाइन और सिग्नल लाइन एक दुसरे के पास आने लगते है | इस स्थिति को कन्वर्जेन्स (Convergence) कहा जाता है | जब एमएसीडी इंडिकेटर में कन्वर्जेन्स की स्थिति उत्पन्न होती है तब क्रॉसओवर की स्थिति बनने वाली होती है |

एमएसीडी डाइवर्जेन्स क्या है?

जब हिस्टोग्राम बड़ी होने लगती है तथा एमएसीडी लाइन और सिग्नल लाइन एक दुसरे से दूर जाने लगते है तब इस स्थिति को डाइवर्जेन्स (Divergence) कहा जाता है |

मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस डाइवर्जेंस इंडिकेटर क्या है?

मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस डाइवर्जेंस (MACD) इंडिकेटर एक मोमेंटम इंडिकेटर है जो शेयर बाज़ार तथा इंडेक्स के मोमेंटम को दर्शाता है | शेयर बाज़ार में ट्रेड करने वाले ट्रेडर के मध्य यह इंडिकेटर बड़ा ही प्रचलित है | इस इंडिकेटर की खोज 1970 के दशक में गेराल्ड एपल द्वारा किया गया था |

आज हमने जाना (Today We Learned)

मेरे प्रिय पाठकों, आज के इस लेख में हम सबने जाना कि मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस डाइवर्जेंस इंडिकेटर (Moving Average Convergence Divergence Indicator) क्या है तथा एक ट्रेडर इसका प्रयोग कर किस प्रकार से मु नाफा कमाता है |

हम आशा करते है कि अब आपको मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस डाइवर्जेंस इंडिकेटर से सम्बंधित सभी प्रश्नों के उत्तर मिल गए होंगे | आपको हमारा यह पोस्ट कैसा लगा हमें कमेन्ट कर अवश्य बताये | यदि आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर करें |

यदि आपके पास हमारे लिए कोई सवाल हो तो हमें कमेन्ट करें या आप हमें contact@finohindi.com पर मेल कर सकते है | आप हमसे लगातर जुड़े रहने के लिए आप हमारे Facebook पेज, Twitter पेज तथा Telegram चैनल पर हमसे जुड़ सकते है |

🔆🔆🔆🔆🔆

Sharing Is Caring:

हेल्लो दोस्तों, मै पिछले 8 वर्षो से शेयर बाज़ार में निवेश तथा रिसर्च कर रहा हूँ | मै अपने अनुभव को Finohindi के माध्यम से आपके साथ सच्चाई के साथ सीधे तथा साफ शब्दों में बाटना चाहता हूँ | यदि आप शेयर बाज़ार में निवेश, ट्रेड करते है या आपकी शेयर बाज़ार में रूचि है तो आप सही जगह पर है

Leave a Comment

स्पिनिंग टॉप कैंडलस्टिक पैटर्न / Spinning Top Candlestick Pattern आवधिक कॉल नीलामी क्या है / Periodic Call Auction in Hindi मॉर्निंग स्टार कैंडलस्टिक पैटर्न / Morning Star Candlestick Pattern In Hindi GSM कैटेगरी क्या है / GSM Category Meaning In Hindi तीन काले कौवे कैंडलस्टिक पैटर्न / Three Black Crows Candlestick Pattern Full Details In Hindi