डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) का प्रयोग कैसे करें?

मेरे प्रिय पाठकों पिछले अध्याय में हम सबने कैंडलस्टिक पैटर्न, कैंडलस्टिक चार्ट पैटर्न तथा इनके प्रकार के बारे में विस्तार से अध्ययन किया था | आज के इस लेख डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) का प्रयोग कैसे करें ? में हम सब डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न के बारे में विस्तार से अध्ययन करेंगे |

आज के इस लेख में हम सब जानेंगे कि डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न क्या है , यह कितने प्रकार का होता है | इसके साथ-साथ हम समझेंगे कि एक ट्रेडर अपने ट्रेडिंग में डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न का प्रयोग कर किस प्रकार से बड़ा मुनाफा कमाता है | 

Table of Contents

डोजी कैंडल – Doji Candle

जब किसी कैंडलस्टिक चार्ट के किसी कैंडल का ओपन तथा क्लोज एक समान या लगभग एक समान हो तो इस प्रकार के कैंडल को डोजी कैंडल(Doji Candle) कहा जाता है | इस प्रकार की कैंडल की बॉडी बड़ी नहीं होती है | इसका यह कतई अर्थ नहीं है कि शेयर में बड़ी खरीदारी या बिकवाली नहीं की जाती है |

इस प्रकार की कैंडल में बाज़ार ओपन होने के बाद खरीदारी या बिकवाली की जाती है लेकिन बाज़ार के बंद होने के समय क्लोजिंग प्राइस तथा ओपन प्राइस एक समान या लगभग एक समान लेवल पर बंद होती है | इस कारण से इन कैंडल में बॉडी नही होती लेकिन शैडो होती है | यह कैंडल बुल्स तथा बियर्स के मध्य युद्ध को दर्शाता है |

कैंडलस्टिक पैटर्न दो प्रकार के होते है | 1) एकल कैंडल स्टिक पैटर्न, 2 ) डबल कैंडल स्टिक पैटर्न 

एकल कैंडलस्टिक पैटर्न :- ऐसे कैंडलस्टिक पैटर्न जिनके निर्माण के लिए मात्र एक कैंडल की आवश्यकता पड़ती है उसे एकल कैंडलस्टिक पैटर्न(Single Candlestick Pattern) कहा जाता है |

डबल कैंडलस्टिक पैटर्न :- ऐसे कैंडलस्टिक पैटर्न जिनके निर्माण के लिए दो कैंडल की आवश्यकता पड़ती है उसे डबल कैंडलस्टिक पैटर्न(Double Candlestick Pattern) कहा जाता है | इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए सर्वश्रेष्ठ इंडिकेटर

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न – Doji Candlestick Pattern in Hindi

जब कोई डोजी कैंडल किसी ट्रेंड के टॉप पर या बॉटम पर बनता है तब इसे डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न – Doji Candlestick Pattern कहा जाता है | ये पैटर्न ट्रेंड रिवर्शल पैटर्न होते है |

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) का प्रयोग कैसे करें ?

यदि ये पैटर्न डाउन ट्रेंड के बॉटम पर बनता है तब यह पैटर्न शेयर की चाल को अप ट्रेंड में तथा यदि यह डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) किसी अप ट्रेंड के टॉप पर बनता है तब यह शेयर के ट्रेंड को डाउन ट्रेंड में बदल देता है | ट्रेडिंग कैसे सीखें ?

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न – Doji Candlestick Pattern के प्रकार

डोजी कैंडल(Doji Candle) अपने आकार के आधार पर पांच प्रकार के होते है |

  • मानक डोजी कैंडल (Standard Doji Candle)
  • लंबी टांग वाला डोजी कैंडल(Long legged Doji Candle)
  • ड्रैगनफ्लाई डोजी कैंडल (Dragonfly Doji Candle)
  • ग्रेवस्टोन डोजी कैंडल (Gravestone Doji Candle)
  • चार मूल्य डोजी कैंडल (Four Price Doji Candle)

मानक डोजी कैंडल (Standard Doji Candle)

जब किसी डोजी कैंडल में अपर शैडो तथा लोअर शैडो लगभग एक समान हो तब इस प्रकार के डोजी कैंडल को मानक डोजी कैंडल (Standard Doji Candle) कहा जाता है | इस कैंडल का आकार + के निशान जैसा होता है |  इस कैंडल में शेयर अपने ओपन प्राइस से ऊपर तथा निचे दोनों तरफ ट्रेड करता है जिस कारण से शैडो का निर्माण हो जाता है | 

मानक डोजी कैंडल (Standard Doji Candle)
मानक डोजी कैंडल (Standard Doji Candle)

जब किसी मानक डोजी कैंडल का निर्माण उसके रेजिस्टेंस के लेवल पर होता है तब ट्रेंड रिवर्श होकर डाउन ट्रेंड तथा जब इस पैटर्न का निर्माण शेयर के सपोर्ट लेवल पर होता है ट्रेंड रिवर्श होकर अप ट्रेंड में बदल जाने का संकेत मिलता है  | डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न का प्रयोग ट्रेडर अपनी स्ट्रेटजी के अनुसार करके ट्रेड करते है तथा बड़ा लाभ कमाते है | शेयर बाज़ार में निवेश के नियम

लंबी टांग वाला डोजी कैंडल(Long legged Doji Candle)

जैसा की नाम से स्पष्ट है कि ‘लंबे पैर वाला डोजी कैंडल’ अर्थात इस डोजी कैंडल का बॉडी ऊपर तथा एक लम्बी सी शैडो निचे की तरफ होती है | इस कैंडल में अपर शैडो, निचे की शैडो की तुलना में बहुत छोटी(एक चौथाई या उससे भी कम) होती है | इस प्रकार की कैंडल का निर्माण तब होता है जब किसी कंपनी के शेयर में बड़ी बिकवाली की जाती है लेकिन बुल्स के खरीदारी करने के कारण शेयर अपने ओपन कीमत से भी ऊपर निकल कर वापस ओपन प्राइस के आस – पास अपनी क्लोजिंग देती है |

लंबी टांग वाला डोजी कैंडल(Long legged Doji Candle)
लंबी टांग वाला डोजी कैंडल(Long legged Doji Candle)

लंबी टांग वाला डोजी कैंडल(Long legged Doji Candle) का निर्माण सामान्यतः उसके सपोर्ट के आस पास या जब कोई शेयर अपने रेजिस्टेंस के लेवल पर भी मजबूती दिखा रही हो तब इस कैंडल का निर्माण होता है | यह डोजी कैंडल चार्ट में मजबूती का संकेत देता है | शेयर खरीदने और बेचने का उत्तम समय ?

ड्रैगनफ्लाई डोजी कैंडल (Dragonfly Doji Candle)

डोजी कैंडल के अगली कड़ी में हम ड्रैगनफ्लाई डोजी कैंडल (Dragonfly Doji Candle) के बारे में समझेंगे | जब किसी डोजी कैंडल में बॉडी बिलकुल टॉप पर तथा उसकी पूंछ बड़ी तथा निचे हो तब इस प्रकार के कैंडल को ड्रैगनफ्लाई डोजी कैंडल कहा जाता है | इस कैंडल का आकार एक पतंगा जैसा होता है इस कारण से इस पैटर्न को ड्रैगनफ्लाई नाम दिया गया है | 

ड्रैगनफ्लाई डोजी कैंडल (Dragonfly Doji Candle)
ड्रैगनफ्लाई डोजी कैंडल (Dragonfly Doji Candle)

इस कैंडल का निर्माण सामान्यतः शेयर के सपोर्ट पर होता है जो पॉजिटिव ट्रेंड का सूचक है | जब शेयर अपने रेजिस्टेंस के लेवल पर हो तथा शेयर मजबूती दिखाए तब भी ड्रैगनफ्लाई डोजी कैंडल (Dragonfly Doji Candle) का निर्माण हो जाता है | प्राइस एक्शन ट्रेडिंग क्या है ?

ग्रेवस्टोन डोजी कैंडल (Gravestone Doji Candle)

ग्रेवस्टोन डोजी कैंडल, ड्रैगनफ्लाई डोजी कैंडल का ठीक उल्टा होता है | जब किसी डोजी कैंडल का निर्माण इस प्रकार हो कि इसकी बॉडी निचे तथा इसकी पूंछ/शैडो उपर के साइड में हो तब इस प्रकार के कैंडल को ग्रेवस्टोन डोजी कैंडल कहा जाता है | ग्रेवस्टोन का शाब्दिक अर्थ है कब्र का पत्थर | ग्रेवस्टोन डोजी कैंडल का निर्माण सामान्यतः चार्ट के टॉप पर या उसके रेजिस्टेंस के लेवल पर होता है |

ग्रेवस्टोन डोजी कैंडल (Gravestone Doji Candle)
ग्रेवस्टोन डोजी कैंडल (Gravestone Doji Candle)

हर कैंडल निर्माण के पीछे ट्रेडर तथा निवेशक की साइकोलॉजी कार्य करती है | जब कोई शेयर अपने टॉप पर हो या अपने रेजिस्टेंस के लेवल के आस पास होता है तब बाज़ार के खुलने के बाद बुल्स खरीदारी करके शेयर ऊपर तो लेकर जाते है लेकिन ऊपर जाने के बाद बियर्स एक्टिव हो जाते है तथा बिकवाली करना आरंभ कर देते है इस कारण से शेयर की कीमत वापस ओपन प्राइस के आस पास आ जाता है | इस कैंडल के निर्माण को मंदी का सूचक माना जाता है | डायवर्सिफिकेशन क्या है ?

चार मूल्य डोजी कैंडल (Four Price Doji Candle)

दरअसल इस कैंडल का नाम “चार मूल्य समान कैंडल” होना चाहिए | क्यों कि इस प्रकार के कैंडल में शेयर का चारों प्राइस(ओपन, क्लोज, हाई तथा low) समान होता है | इस कैंडल का निर्माण तब होता है जब शेयर में खरीदारी – बिकवाली न किया जा रहा हो या जिस कीमत पर कंपनी का शेयर ओपन हुआ है उसी कीमत पर खरीदार, खरीदारी कर रहे है तथा उसी कीमत पर बेयर्स बिकवाली कर रहे हों | 

चार मूल्य डोजी कैंडल (Four Price Doji Candle)
चार मूल्य डोजी कैंडल (Four Price Doji Candle)

यह कैंडल तेज़ी या मंदी का सूचक नहीं है | इस कैंडल का निर्माण किसी शेयर के चार्ट के टॉप पर या बॉटम पर कही भी बन सकता है | इस कैंडल का निर्माण ट्रेंड के रिवर्श होने का संकेत देता है | यदि शेयर अपट्रेंड में है तो इस कैंडल के निर्माण के बाद शेयर का ट्रेंड डाउन ट्रेंड में तथा यदि शेयर डाउन ट्रेंड में है तब इस कैंडल के निर्माण के बाद शेयर का ट्रेंड बदलकर अपट्रेंड में हो जाने का संकेत  है | बोनस शेयर क्या है ? What is Bonus Share in Hindi

चार्ट में डोजी कैंडल को कैसे पहचाने

जब कोई शेयर अपट्रेंड या डाउन ट्रेंड में ट्रेड कर रहा हो तब यदि इनके टॉप पर या बॉटम पर कोई ऐसी कैंडल का निर्माण होता है जिसका बॉडी बहुत छोटी हो तब यह एक डोजी कैंडल है | अर्थात ट्रेंड के रिवर्स होने का संकेत मिल रहा है |

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) में ट्रेड कब लें 

डोजी कैंडल में दो प्रकार से ट्रेड लिया जाता है :-

  1. जब डोजी कैंडल का निर्माण चार्ट के टॉप पर या रेजिस्टेंस पर हो
  2. जब डोजी कैंडल का निर्माण चार्ट के बॉटम पर या सपोर्ट पर हो

जब डोजी कैंडल का निर्माण चार्ट के टॉप पर या रेजिस्टेंस पर हो

जब कोई डोजी कैंडल किसी शेयर के चार्ट के टॉप पर या उसके रेजिस्टेंस के लेवल पर बनता है तब यह मंदी के ट्रेंड का संकेत देता है | इस डोजी कैंडल का निर्माण हो जाने के बाद ट्रेडर एक्टिव हो जाते है |

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) में ट्रेड कब लें
जब डोजी कैंडल का निर्माण चार्ट के टॉप पर या रेजिस्टेंस पर हो

यदि इस डोजी कैंडल के बाद बनने वाली कैंडल ऐसी बेयरिश कैंडल हो जो डोजी कैंडल के हाई को ब्रेक न करे, तब डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न का कन्फर्मेशन मिल जाता है | इस बेयरिश कैंडल का low जैसे ही अगली कैंडल द्वारा ब्रेक किया जाय तब ट्रेडर बिकवाली में ट्रेड ले सकते है | मल्टीबैगर स्टॉक (Multibagger Stock) को कैसे पहचाने ?

जब डोजी कैंडल का निर्माण चार्ट के बॉटम पर या सपोर्ट पर हो

जब किसी डोजी कैंडल का निर्माण किसी चार्ट के बॉटम पर या उसके सपोर्ट के लेवल के आस-पास होती है तब आपको ट्रेंड के रिवर्स या पाजिटिव ट्रेंड का संकेत मिलता है | यदि इस बॉटम में बने डोजी कैंडल के बाद बनने वाली कैंडल ऐसी बुलिश कैंडल हो जो डोजी कैंडल के low को ब्रेक न करे तब आपको डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) का कन्फर्मेशन मिल जाता है | 

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) में ट्रेड कब लें 
डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) में ट्रेड कब लें

अब इस बुलिश कैंडल के बाद बनने वाली कैंडल जैसे ही बुलिश कैंडल का हाई ब्रेक करें वैसे ही ट्रेडर खरीदारी में अपना पोजिशन बना सकते है |

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) में टार्गेट सेट करें

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न में ट्रेडर अपना टार्गेट एंट्री पॉइंट से डोजी कैंडल का low या हाई का अंतर लगाते है | जब इस डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न का निर्माण चार्ट के टॉप पर होता है तब ट्रेडर अपना टार्गेट डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न के हाई तथा एंट्री पॉइंट के अंतर जितना लगाना चाहिए |

लेकिन यदि इस डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न का निर्माण डाउन ट्रेंड में चल रहे शेयर के बॉटम पर होता है तब ट्रेडर को टार्गेट एंट्री पॉइंट तथा डोजी कैंडल के low का अंतर जितना लगाना चाहिए | 

इसे एक उदाहरण से समझाने का प्रयास करते है :- 

1) जब डोजी कैंडल का निर्माण चार्ट के टॉप पर या रेजिस्टेंस पर हो:- जैसे मान लीजिये कि कोई शेयर अपट्रेंड में ट्रेड कर रहा है | इस स्थिति में इस पैटर्न के टॉप पर किसी डोजी कैंडल का निर्माण होता है | हम मान कर चलते है कि इस डोजी कैंडल का हाई 100 तथा low 95 रुपये पर है | इस डोजी कैंडल के बाद बनने वाली लाल कन्फर्मेशन कैंडल का हाई 96 तथा low 94 रुपये है | 

अब यदि इस ट्रेड में एंट्री का कन्फर्मेशन देने वाली कैंडल, लाल कन्फर्मेशन कैंडल के low (94) को ब्रेक कर आपको ट्रेड में एंट्री का संकेत दे रही है तब

ट्रेडर का टार्गेट = एंट्री का लेवल – (डोजी कैंडल का टॉप – एंट्री का लेवल)

ट्रेडर का टार्गेट = 94 – (100-94) 

ट्रेडर का टार्गेट = 94 – (6) 

ट्रेडर का टार्गेट = 88 रुपये |

अर्थात इस स्थिति ट्रेडर अपना टार्गेट 88 रुपये पर सेट करेंगे |

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) में टार्गेट सेट करें

2) जब डोजी कैंडल का निर्माण चार्ट के बॉटम पर या सपोर्ट पर हो :- जब कोई शेयर डाउन ट्रेंड में ट्रेड कर रहा हो तथा इसके बॉटम पर कोई डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न का निर्माण होता है तब हम मान कर चलते है कि डोजी कैंडल का low 80 रुपये तथा हाई 90 पर है | इसके बाद बनने वाली हरी कन्फर्मेशन कैंडल का low 88 तथा हाई 92 पर है | अब यदि इसके बाद बनने वाली एंट्री कन्फर्मेशन कैंडल 92 के लेवल पर ट्रेड में एंट्री का संकेत देता है तब 

ट्रेडर का टार्गेट = ट्रेड में एंट्री का लेवल + (ट्रेड में एंट्री का लेवल – डोजी कैंडल का low)

ट्रेडर का टार्गेट = 92 + (92 -80)

ट्रेडर का टार्गेट = 92 + 12

ट्रेडर का टार्गेट = 104  रुपये |

अर्थात इस प्रकार के पैटर्न में ट्रेडर शेयर में खरीदारी कर अपना टार्गेट 104 रुपये पर लगाते है | 

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न में टार्गेट बड़ा कैसे करें?

यदि आप सेफ ट्रेडर है तब आप उपरोक्तानुसार 1:1 का टार्गेट लेकर अपना प्रॉफिट बुक कर सकते है | लेकिन यदि आप बड़ी मात्रा में ट्रेड करते है तथा आप अपने टार्गेट को बड़ा बनाना चाहते है तब हमारे पास आपके लिए एक युक्ति है जिसका प्रयोग कर आप अपने ट्रेड का टार्गेट बड़ा कर सकते है |

इसके लिए आपको 1:1 का टार्गेट मिल जाने के बाद 50 प्रतिशत प्रॉफिट बुक कर लेना चाहिए | शेष को होल्ड किये रहिये तथा शेयर के चार्ट पर अपनी नज़रे बनाये रखे और शेयर को ऊपर जाने दीजिये | जब आपको चार्ट के छोटे टाइम फ्रेम पर कोई ट्रेंड रिवर्शल पैटर्न दिखाई दे तब आप ट्रेड से एग्जिट कर अपने लाभ को बुक कर सकते है | ऐसे में ट्रेडर अपना टार्गेट तथा स्टॉप लॉस ट्रेल करते रहते है |

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) में स्टॉप लॉस कहाँ सेट करें

जब एक सफल ट्रेडर कोई ट्रेड लेता है तो वह टार्गेट लगाने से पहले ट्रेड का स्टॉप लॉस लगता है | जब किसी डाउन ट्रेंड के बॉटम पर कोई डोजी कैंडल स्टिक पैटर्न का निर्मण होता है तब ट्रेड लेने के बाद ट्रेडर स्टॉप लॉस को डोजी कैंडल का low लगाना चाहिए |

लेकिन यदि कोई डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) किसी अपट्रेंड शेयर के टॉप पर बनता है तब ट्रेडर अपने स्टॉप लॉस को डोजी कैंडल के टॉप पर लगाता है | आईपीओ की अलाटमेंट स्थिति (IPO Allotment Status) कैसे चेक करें?

इस लेख से सम्बंधित प्रशनोत्तरी:-

डोजी कैंडल क्या है?

जब किसी कैंडलस्टिक चार्ट के किसी कैंडल का ओपन तथा क्लोज एक समान या लगभग एक समान हो तो इस प्रकार के कैंडल को डोजी कैंडल(Doji Candle) कहा जाता है | इस प्रकार की कैंडल की बॉडी बड़ी नहीं होती है |

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न क्या है?

जब कोई डोजी कैंडल किसी ट्रेंड के टॉप पर या बॉटम पर बनता है तब इसे डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न – Doji Candlestick Pattern कहा जाता है | ये पैटर्न ट्रेंड रिवर्शल पैटर्न होते है | यदि ये पैटर्न डाउन ट्रेंड के बॉटम पर बनता है तब यह पैटर्न शेयर की चाल को अप ट्रेंड में तथा यदि यह डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) किसी अप ट्रेंड के टॉप पर बनता है तब यह शेयर के ट्रेंड को डाउन ट्रेंड में बदल देता है |

डोजी कैंडलस्टिक कितने प्रकार का होता है |

डोजी कैंडल(Doji Candle) अपने आकार के आधार पर पांच प्रकार के होते है |

1) मानक डोजी कैंडल (Standard Doji Candle)
2) लंबी टांग वाला डोजी कैंडल(Long legged Doji Candle)
3) ड्रैगनफ्लाई डोजी कैंडल (Dragonfly Doji Candle)
4) ग्रेवस्टोन डोजी कैंडल (Gravestone Doji Candle)
5) चार मूल्य डोजी कैंडल (Four Price Doji Candle)

सारांश(Summary)

मेरे प्रिय पाठकों आज के इस लेख डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) का प्रयोग कैसे करें ? में हम सबने जाना कि डोजी कैंडल क्या होता है, डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न क्या है, डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न कितने प्रकार का होता है, डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न में टार्गेट तथा स्टॉप लॉस कहाँ लगाया जाता है | मै आशा करता हूँ कि अब आपको डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न में ट्रेड करने में किसी प्रकार की समस्या नहीं होगी |

आपको हमारा यह पोस्ट कैसा लगा हमें कमेन्ट कर अवश्य बताये | यदि आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें |

यदि आपके पास हमारे लिए कोई सवाल हो तो हमें कमेन्ट करें या आप हमें contact@finohindi.com पर मेल कर सकते है | आप हमसे लगातर जुड़े रहने के लिए आप हमारे Facebook पेज, Twitter पेज तथा Telegram चैनल पर हमें Follow कर सकते है |

🔆🔆🔆

Sharing Is Caring:

हेल्लो दोस्तों, मै पिछले 8 वर्षो से शेयर बाज़ार में निवेश तथा रिसर्च कर रहा हूँ | मै अपने अनुभव को Finohindi के माध्यम से आपके साथ सच्चाई के साथ सीधे तथा साफ शब्दों में बाटना चाहता हूँ | यदि आप शेयर बाज़ार में निवेश, ट्रेड करते है या आपकी शेयर बाज़ार में रूचि है तो आप सही जगह पर है

5 thoughts on “डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न(Doji Candlestick Pattern) का प्रयोग कैसे करें?”

    • नमस्कार israr husain सर,
      मै आपका बहुत आभारी हूँ कि आपने अपना बहुमूल्य समय निकल कर हमारे वेबसाईट दिया | हम आप जैसे ही पाठक की भूरी भूरी प्रसंसा करते है जो किसी वर्तनी या अन्य त्रुटी को हम तक पंहुचा कर हमें सहयोग करते है | आप द्वारा बताये गए त्रुटी को सही कर दिया गया है | धन्यवाद

      Reply
  1. I’ll right away grasp your rss as I can not to find your e-mail subscription link or
    e-newsletter service. Do you have any? Kindly permit me realize so that I may just subscribe.
    Thanks.

    Reply
  2. मैंने आपको अभी एक Dofollow बैकलिंक ‘डबल बॉटम कैंडलस्टिक पैटर्न की पूरी जानकारी’ आर्टिकल पर दिया है। आगे और भी आपके बैकलिंक आपने ब्लॉग में लगा दूंगी। मुझे बैकलिंक देने के लिए धन्यवाद। Money market Hindi.

    Reply

Leave a Comment

स्पिनिंग टॉप कैंडलस्टिक पैटर्न / Spinning Top Candlestick Pattern आवधिक कॉल नीलामी क्या है / Periodic Call Auction in Hindi मॉर्निंग स्टार कैंडलस्टिक पैटर्न / Morning Star Candlestick Pattern In Hindi GSM कैटेगरी क्या है / GSM Category Meaning In Hindi तीन काले कौवे कैंडलस्टिक पैटर्न / Three Black Crows Candlestick Pattern Full Details In Hindi